मटर से बनाए ये 6 लज़ीज़ व्यंजन | Green Peas Recipes

मटर से बनाए ये 6 लज़ीज़ व्यंजन

सर्दियाँ – मौसम खाने और सेहत बनाने का। Green Peas मटर, गाजर, पालक, मेथी, चुकंदर, मूली जैसी सब्ज़ियाँ जो सर्दियों में मुख्य रूप से आती है, हम भारतीयों के लिए इतने व्यंजनों का ख़ज़ाना ले के आती है की सर्दियाँ ख़त्म हो जाती है पर इनसे बनने वाले व्यंजनों की सूची नहीं।

आज हम बात करेंगे मटर की। अभी बाज़ार में मटर आना शुरू ही हुई है। सर्दियों में हर सब्ज़ी में अपनी जगह बनाने वाली मटर को बस छिलना ही बड़ा काम होता है, बाक़ी खाने में तो ये एकदम आसान। चाहे सब्ज़ी बना के खाओ, चाहे किसी और सब्ज़ी के साथ मिला के बनाओ, चाहे इसे भाँप में पका के खाओ या काठी में भून के खाओ… हर रूप में अच्छी लगती है।

मटर के स्वास्थ लाभ Green Peas Nutrition

  1. इस में मौजूद कैरोटीनॉयड और ल्यूटिन मोतियाबिंद और उम्र संबंधित चकत्तेदार अधः पतन से  लड़ने में सहायक होता है।  
  2. गर्भवती महिलाओं द्वारा हरी मटर का नियमित सेवन बहुतायत में खनिज फोलेट की उपस्थिति के कारण तटस्थ जन्म दोषों के जोखिम को कम करता है।
  3. इस में पाए जाने वाला विटामिन सी, विशेष रूप से ल्यूकेमिया, लिम्फोमा, फेफड़े, कोलोरेक्टल और अग्नाशय सहित कैंसर के लगभग सभी रूपों के विकास को रोकने और कम करने में सहायक है।
  4. शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को स्थिर रखने, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और शरीर में ऊर्जा कार्य को बढ़ाने में भी मटर का भरपूर योगदान होता है।  
  5. आहार फाइबर का एक बड़ा स्रोत, हरी मटर वजन प्रबंधन में मदद करता है और पाचन स्वास्थ्य को नियंत्रण में रखता है।

इतने सारे स्वास्थ लाभ के साथ आईये जब जानते है मटर से बनने वाले उन 6 स्वादिष्ट व्यंजनों की जो इन सर्दियों में आपको ज़रूर बनाना चाहिए:

पराठे –

इस के पराठे आप 2 तरीकों से बना सकते है।मटर के मसाले को भरकर और मटर के मसाले को गेंहू  आटे में सानकर। दोनो ही तरह से बनाने के लिए आपको ताजी हरी मटर के दानों को मिक्सर के ज़ार में लहसुन की कलियाँ, अदरक, हरी मिर्च और हींग-ज़ीरा डालकर दरदरा पीसना होता है। इसके बाद कड़ाही में थोड़ा सा तेल डालकर गरम होने पर पिसी हुई मटर को डालकर अच्छें से भुने। भून जाने पर आपको भीनी-भीनी महक आएगी और पीसी हुई मटर कड़ाही छोड़ने लगेगी। तब गैस बंद कर दें।

अब इस मटर के मसाले को आप गेहूँ के आटे की छोटी चपाती बना के उसके अंदर भर कर भी पराठे जैसे बना के घी से सेंक सकते हैं या आटे में सीधे मिला कर फिर गोल बेल कर कर घी से सेंक सकते है। गर्म मटर के पराठों को हरी चटनी, दही या केचप के साथ परोसें।

मटर के पराठे

निमोना –  

उत्तर प्रदेश में बनाया जाने वाला मटर का निमोना पूरे भारत में चाव से खाया जाता है। इसे बनाने के लिए सबसे पहले मिक्सर के ज़ार में हरी मिर्च, अदरक, लहसुन, प्याज़ और टमाटर का पेस्ट बना लीजिए। पेस्ट को किसी बर्तन में ख़ाली कर के उसी ज़ार में हरी मटर को पीस लीजिए। अब कड़ाही में मक्खन/घी/तेल जो उचित लगे डाले और गर्म होने के लिए रख दें।गर्म होने पर हींग और ज़ीरा डाले। इसके बाद सबसे पहले पिसा हुआ पेस्ट डालें। पेस्ट को अच्छे से तब तक भुने जब तक वो कड़ाही ना छोड़ने लगे और उसके आस पास का मक्खन/घी/तेल ना छूट जाए।

अब इसमें धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, चुटकीभर शक्कर, और स्वादानुसार नमक डालकर एक सार कर लें। इसके बाद मिलाए इसमें पिसी हुई मटर को। अब इसे पतला करने के लिए गर्म पानी डाल दे और मिला के निमोना की कन्सिस्टेन्सी अपने अनुसार रख लें। थोड़ा सा गरम मसाला डाल कर ढँक दे और धीमी आँच पर 5-10 मिनट तक पकने दें। गैस बंद कर के गरम पराठों, चावल, फुलका, या मक्के की रोटी के साथ परोसें।

टिप: निमोना परोसते समय ऊपर से घी या मक्खन ज़रूर डालें।

हलवा – 

स्वादिष्ट मटर का हलवा बनाने के विधी जानने के लिए मेरी सहेली @Archana Sharma का YouTube Recipe Channel FoodNMoreWithArchi ज़रूर विज़िट करे। यहाँ क्लिक कर के आप पहुँचेंगे सीधे उस विडीओ पर जिसमें मटर का हलवा बनाने की आसान विधी बताई गयी है।

खीर- 

इस की खीर बनाने के लिए सबसे पहले मटर को मिक्सर के ज़ार में दरदरा पीस ले। अब मटर को कड़ाही में घी डालकर अच्छे से सेंके। दूसरी तरफ़ मोटे तले की कड़ाही में दूध को उबलने के लिए रख दे। जब तक दूध उबाल कर आधा ना हो जाए तब तक उबालते रहे। इसके बाद शक्कर डालें और घी में सेंकी हुई मटर भी डाल दे। इस को दूध में तब तक उबलने दे जब तक की वो दूध के साथ ही कड़ची से ना गिरने लगे।

स्वाद और सुगंध बढ़ाने के लिए आप मटर की खीर में इलायची पाउडर, काजू-बादाम-पिस्ता कतरन और केसर भी डाल सकते है।

छोलवे – 

इसे बनाने के लिए सबसे पहले मटर को दरदरा पीस लीजिए। अब कड़ाही में तेल डाल कर गरम करे। तेल गरम होने पर हींग-राई-ज़ीरा-बारीक कटी हुई हरी मिर्च डाल कर पिसी हुई मटर डाल दे के ढाँक दे। क़रीब 5 मिनट तक पकाने के बाद उसमें लाल मिर्च पाउडर-धनिया पाउडर-हल्दी पाउडर और नमक डाल दे और अच्छें से मिला दे। वापस 5 मिनट के लिए ढाँक दे। जब तक 5 मिनट पूरे होते है, आप एक भगौने में खट्टे दही को फ़ेट कर कर पतला कर ले और उसमें बेसन मिला ले।

5 मिनट बाद दही और बेसन के घोल को कड़ाही वाली मटर पर डाल दे और उसे कढ़ी की तरह उबाल ले। पर्याप्त उबाल आने पर गैस बंद कर दे।आप इसे चपाती या चावल के साथ परोस सकते हैं।

मीठाई – 

इस की मीठाई बनाने के लिए पहले मटर को मिक्सर के ज़ार में डालकर दरदरा पीस ले। इसके बाद कड़ाही में घी गरम कर के पिसी हुई मटर को अच्छे से सेंके। जब तक मटर सींक रही है आप दूसरी तरफ़ तीन तार की चाशनी बना कर तैयार कर लें। जब मटर सींक जाए तो चाशनी को मटर में मिला दे और साथ ही मावा (खोया) भी मिला दे। अब इसे अच्छे से सेंके और जब सींक कर कड़ाही छोड़ने लगे तो घी से ग्रीस करी हुई थाली में पलटा दे और चक्की/कतली की तरह ठंडा होने पर काट ले। सजावट के लिए ख़सख़स का उपयोग करे और स्वाद बढ़ाने के लिए आप इलायची पाउडर भी डाल सकते है।

तो ये थी मेरी तरफ़ सुझाई हुई वो 6 मटर रेसिपीज जिन्हे मैं इन सर्दियों में बनाने वाली हूँ। वैसे आप मटर पनीर, आलू मटर, मटर की कचौरी, टिक्की और भी कई सारी रेसिपीज को बना सकते हैं। कैसा लगा ये ब्लॉग आपको कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताए और इसे अपने परिचितो में शेयर करना ना भूले। जल्दी मिलते है अगले फ़ूड ब्लॉग के साथ… 


0
0

Leave a Reply

Your email address will not be published.